Karva Chauth Ka Kya Matlab Hota Hai – करवा चौथ की रात को पति-पत्नी क्या करते हैं

 वैसे तो करवा चौथ के बारे में हर एक सुहागन औरत बड़ी ही अच्छी तरीके से जानती है। मगर जिन लोगों की नई नई शादी हुई होती है और जिन को नहीं पता होता है कि Karva Chauth ka kya matlab hota hai? तो ऐसे में इसके बारे में सब कुछ जानने की जिज्ञासा होने लगती है। नई नई दुल्हन कभी भी लोगों से खुलकर बात करने में और कुछ पूछने में कतराती हैं। 

इसीलिए वह गूगल का सहारा लेती है परंतु वहां पर भी उन्हें सही से और सटीक जानकारी नहीं मिल पाती। आज के इस आर्टिकल में हम आप सभी को इसी विषय पर विस्तार पूर्वक से जानकारी प्रदान करने वाले हैं। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में करवा चौथ की रात को पति पत्नी क्या करते हैं? एवं करवा चौथ पर अपने पति पत्नी के रिलेशन को कैसे मजबूत करें?। 

इस विषय पर भी आपको जानकारी प्राप्त होने वाली है और इतना ही नहीं 2021 में करवा चौथ व्रत कब है? इसके बारे में भी आपको जानकारी प्रदान करेंगे। अगर आप यह सभी कुछ जानना चाहती हैं तो आपको आज का यह आर्टिकल अंतिम तक अवश्य पढ़ना होगा।

Karva Chauth Ka Kya Matlab Hota Hai? – करवा चौथ व्रत क्यों स्पेशल है

हमारे हिंदू धर्म में करवा चौथ व्रत को बहुत ही मान्यता प्रदान की गई है। चौथ व्रत मनाने के पीछे एक पौराणिक कथा है। कहा जाता है कि करवा नाम की एक सुहागन औरत थी। जिसने अपनी कड़ी तपस्या और अपने पति के प्रति सच्चे समर्पण के शक्ति से यमराज से उसकी आयु छीन ली और उसे एक नया जीवनदान प्रदान किया। 

अर्थात करवा चौथ व्रत का मतलब पत्नी अपने पति की लंबी आयु के लिए इस व्रत का पालन करती है। इस व्रत को रखने से पति की उम्र बढ़ती है और उसके ऊपर आने वाली बड़ी से बड़ी विपत्तियों को डाला जा सकता है। करवा चौथ व्रत का प्रचलन बहुत ही पुराना है और अब स्त्रियों में इस व्रत के प्रति और भी आकर्षण देखा जा रहा है। 

प्रत्येक वर्ष करवा चौथ का व्रत मनाया जाता है और हमारे देश में हर सुहागिन औरत इस व्रत को रख के अपने पति के लंबी उम्र की कामना करती है। ज्यादातर करवा चौथ का व्रत सुहागन औरत ही रखती हैं परंतु अब लड़कियों में भी अपने बॉयफ्रेंड के लिए इस व्रत को रखने का नया क्रेज देखा जा रहा है।

यह भी पढ़ें:

करवा चौथ की रात को पति-पत्नी क्या करते हैं?

 करवा चौथ के बारे में जानने के बाद आपके मन में सवाल उठ रहा होगा कि आखिर करवा चौथ की रात  पति और पत्नी के लिए क्यों महत्वपूर्ण होती है? हम आपको बता दें कि हर एक शादीशुदा जुड़े के लिए करवा चौथ का व्रत बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। इस दिन पत्नी अपने पति के लंबी उम्र की कामना करते हुए पूरा दिन निर्जल व्रत रखती है। 

पत्नी का व्रत कब तक नहीं टूटता जब तक वह रात को चांद नहीं देख लेती और चांद देखने के दौरान पत्नी अपने पति के चेहरे को चलनी में दिया रखकर देखती है और फिर पति उसी दौरान अपने हाथों से पत्नी को पानी पिला कर इस व्रत को पूरा करता है। 

Karva Chauth

इस प्रकार पति और पत्नी के लिए करवा चौथ की रात बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। जब तक चांद नहीं दिखता है तब तक पत्नी इस व्रत को नहीं तोड़ सकती है और चांद देखने के बाद ही इस व्रत को पूरा माना जाता है।

करवा चौथ का व्रत क्या बॉयफ्रेंड के लिए रखा जा सकता है? – Karva Chauth Vrat for boyfriend in Hindi

आजकल करवा चौथ का व्रत अविवाहित लड़कियां भी रखने लगी है। अब आज की लड़कियों में भी करवा चौथ का व्रत रखने का क्रेज छाया हुआ है। जिन लड़कियों का बॉयफ्रेंड है आजकल उन लड़कियों को करवा चौथ व्रत रखने का कुछ ज्यादा ही शौक होता है। 

चुप चुप के बिना किसी घरवालों के पता चले लड़कियां अक्सर अपने बॉयफ्रेंड की लंबी उम्र की कामना के लिए करवा चौथ का व्रत रखती है। जो जो सुहागन औरत करवा चौथ के व्रत को पूरा करने के लिए करती है, ठीक वही वही नियम को अविवाहित लड़कियां भी फॉलो करती है परंतु इसके बारे में किसी को पता तक नहीं चल पाता है।

अगर आप अपने बॉयफ्रेंड से सच्चा प्रेम करती है और उसके साथ अपना पूरा भविष्य गुजारने के सपने देख रही हैं और आप दोनों ने डिसाइड किया हुआ है कि समय आने पर वह एक दूसरे के साथ ही शादी करेंगे तो यकीन मानिए आप इस व्रत को जरूर रख सकते हैं। 

आगे चलकर वही लड़का अगर आप को पति के रूप में मिलने वाला है तो आज से ही उसके लंबी उम्र की कामना आखिर क्यों नहीं की जा सकती?। बिना घर वालों को पता चले आप करवा चौथ के कुछ नियमों का पालन करके अपने बॉयफ्रेंड के लंबी उम्र की कामना के लिए इस व्रत को रख सकती हैं।

करवा चौथ व्रत कब है? 2021 – Karva Chauth Vrat Shubh muhurat 2021

करवा चौथ का व्रत रखने वाली लड़कियां और सुहागन औरतें जानना चाहते हैं कि आखिर 2021 का करवा चौथ व्रत कब रखा जाएगा? और करवा चौथ व्रत का शुभ मुहूर्त क्या होगा? हम आपको इसके बारे में भी बताने वाले हैं, आपको फिक्र करने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है। करवा चौथ व्रत की तारीख और इसका मुहूर्त नीचे हमने बताया है।

  • 2021 में करवा चौथ का व्रत 24 अक्टूबर दिन रविवार को मनाया जाएगा।
  •  करवा चौथ व्रत का मुहूर्त रविवार 24 अक्टूबर को सुबह 3:01 पर प्रारंभ होगा और अगले दिन 25 अक्टूबर दिन सोमवार को 5:43 सुबह तक रहेगा।
  • करवा चौथ व्रत का पूजन मुहूर्त 24 अक्टूबर दिन रविवार शाम 6:55 से रात के 8:51 तक रहेगा।

 करवा चौथ पर चांद निकलने का समय 2021

सुबह से भूखी प्यासी बैठी हुई औरतें करवा चौथ के व्रत को पूरा करने के लिए चांद देखने की प्रतीक्षा करती है। इस दिन बिना चांद को देखें इस व्रत को पूरा नहीं माना जाता है। इसीलिए औरतें गूगल पर चांद कब निकलेगा? जैसा प्रश्न करती रहती है। अब चलिए हम आपको बता दें कि करवा चौथ 2021 की रात को चांद कब निकलेगा? जिसकी जानकारी नीचे इस प्रकार से दी गई है। 

  • 24 अक्टूबर करवा चौथ के दिन चांद निकलने का समय रात को 8:11 बजे का है।

करवा चौथ व्रत के लिए पूजन सामग्री – Karva Chauth fast Worship material in Hindi

करवा चौथ व्रत को पूरा करने के लिए और इस दिन करवा चौथ व्रत की पूजा करने के लिए आपको सबसे पहले करवा चौथ व्रत की पूजन सामग्री की आवश्यकता होती है। करवा चौथ के व्रत में जो भी चीजें चढ़ाई जाती है उनकी संख्या 4-4 की होती है। 

मतलब कि अगर आप कोई भी फल चढ़ा रहे हैं तो करीब 4 प्रकार का अलग-अलग चार की संख्या में फल होना चाहिए और इसी प्रकार के अन्य सामग्री भी लगेगी। अब चलिए जानते हैं कि करवा चौथ के दिन आपको कौन कौन सी पूजा सामग्री की आवश्यकता होगी? जिसकी सूची इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित है।

  1. 4-4 की संख्या में अलग-अलग प्रकार के चार फल चाहिए होंगे।
  2. आपको इस दिन पूजा के लिए चावल के आटे का कम से कम फ़ारा बनाना है और इसे पूजा संपन्न होने के बाद गाय माता को खिलाया जाता है।
  3.  आपको एक श्रीफल की आवश्यकता होगी अर्थात एक नारियल की आवश्यकता होगी।
  4. करवा चौथ के दिन करवा माता की पूजा अर्चना की जाती है और इसीलिए आपको एक स्त्री के सभी श्रृंगार सामग्री को भी पूजन सामग्री में शामिल करना होगा।
  5. एक पीतल का और एक मिट्टी का करवा चाहिए होगा।
  6. पूजा की स्थापना के लिए एक मिट्टी का कलश भी चाहिए होगा।
  7. इसके अतिरिक्त आपको रोरी, चंदन, सिंदूर, रक्षा का धागा, मिट्टी का दिया, गाय का घी और चावल,सुपारी, पान, लवंग, इलायची आदि।
  8. गणेश जी और शंकर भगवान की पूजा अर्चना करने के लिए कम से कम 2 जनेऊ की आवश्यकता होती है।

ध्यान दें:-

इन सभी पूजन सामग्रियों की आवश्यकता आपको करवा चौथ व्रत की पूजा के समय होती है और पूजन के दौरान इन सभी चीजों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। इसके अतिरिक्त आप अपने जान पहचान के पंडित से भी इस विषय पर सलाह ले सकते हैं।

 पति के लिए करवा चौथ व्रत की पूजन विधि – Karva Chauth Vrat rules in Hindi

करवा चौथ का पहली पहली बार व्रत रखने वाली महिलाओं को इस की पूजन विधि नहीं मालूम होती और करवा चौथ के व्रत की पूजन विधि जानना चाहती है। 24 अक्टूबर दिन रविवार को सूर्योदय से पहले आपको स्नान कर लेना है। स्नान ध्यान करने के बाद आपको गणेश जी की पूजा अर्चना करनी है और सरगी के रूप में तैयार किया गया कोई भी मीठा भोजन श्री भगवान गणेश जी को समर्पित करें और फिर ऐसी भोजन को प्रसाद के रूप में ग्रहण करें और उसके बाद पानी पीले। 

फिर आपको करवा चौथ व्रत का संकल्प ले लेना है। अब जब तक करवा चौथ का व्रत पूरे तरीके से पूरा ना हो जाए तब तक आपको इस बीच में कुछ भी खाना और पीना नहीं है। शाम के समय करवा चौथ व्रत का पूजा करने के लिए मिट्टी की वेदी को तैयार कर ले। अब इसी वेदी पर आपको सभी देवताओं की स्थापना कर देनी है।  अब इतना कर लेने के बाद आपको वेदी के बीच में करवा को स्थापित कर देना है। 

सभी पूजन सामग्री को तैयार कर ले और उसके बाद आपको चांद निकलने के करीब 1 घंटे पहले से पूजा  कर देनी है। पूजा के समय करवा चौथ की व्रत कथा अवश्य पढ़ें। करवा चौथ की व्रत कथा को बिना पढ़े इस पूजा को पूरा नहीं किया जा सकता है इसीलिए करवा चौथ पर करवा चौथ की व्रत कथा को अवश्य पढ़ें। फिर उसके बाद चांद निकलने का इंतजार करें।

चांद निकलने के बाद आपको अपने पति के चेहरे को चलनी में देखना है और चलनी में आपको एक नया दीपक प्रज्वलित करना है और दिए के रूप में इसे चलने के एक सिरे पर रख देना है। अब आपको चांद की तरफ मुंह करके सबसे पहले चांद को देखना है और फिर उसके बाद आप किसी चलने में अपने पति का चेहरा देखें। इस प्रकार से आप का करवा चौथ व्रत संपन्न हो जाता है। 

करवा चौथ पर पति पत्नी के रिश्ते को मजबूत कैसे करें – How to be strong relationship between husband and wife in this Karva Chauth in Hindi

आपने अब तक तो हमारे इस आर्टिकल को पढ़कर Karva Chauth ka kya matlab hota hai? इसके बारे में पूरा जान लिया होगा और करवा चौथ कैसे मनाते हैं? इसके बारे में भी आपको पूरी विस्तृत जानकारी मिल चुकी होगी। अब चलिए हम आपको बता दें कि करवा चौथ के इस पावन अवसर पर अपने पति पत्नी के रिलेशन को कैसे मजबूत करें? या फिर पति-पत्नी के रिश्ते को मजबूत करने के लिए क्या-क्या आवश्यक कदम उठाए? इसके लिए हमने कुछ टिप्स बताए हैं, जो कि नीचे निम्नलिखित है।

  • एक दूसरे का सम्मान करें:-

पति पत्नी की कोई भी मनोकामना या फिर कोई भी पूजा व्रत तभी सफल हो पाती है जब पति पत्नी एक दूसरे को सम्मान प्रदान करते हैं। अर्थात करवा चौथ के इस मौके पर आपको अपने पति पत्नी के रिलेशन को बरकरार रखने के लिए और जीवन में खुशहाल रहने के लिए आपको एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए।

  • पति पत्नी के रिश्ते में सॉरी को जगा दे:-

पति पत्नी के रिलेशन में सॉरी का भी एक महत्वपूर्ण स्थान होता है। अब आप आप सोच रहे होंगे या फिर सोच रही होंगी कि हस्बैंड और वाइफ के रिलेशनशिप में सॉरी को क्यों इंपॉर्टेंट देनी चाहिए?। पति पत्नी के रिलेशन में लड़ाई झगड़ा बहुत ही आम बात होती है और इतना ही नहीं नाराजगी भी इस रिश्ते में अपनी इंपोर्टेंट जताती है। 

ऐसे में अगर आप अपने प्यारे से इस रिलेशनशिप को बरकरार रखना चाहते हैं तो आपको एक दूसरे को सॉरी बोलना चाहिए और फिर एक दूसरे को माफ भी कर देना चाहिए। ऐसा करने पर आपका रिश्ता लंबे समय तक चलेगा और आपके बीच प्यार भी बरकरार रहेगा।

  • किसी और से अपने जीवन साथी की तुलना ना करें:-

पति हो या फिर चाहे पत्नी आपको कभी भी अपने रिलेशन में एक दूसरे को किसी अन्य के साथ तुलना नहीं करनी चाहिए।मान लीजिए कि आप अपने पत्नी की तुलना किसी और की पत्नी से करते हैं तो ऐसे में आपके रिलेशन में मतभेद उत्पन्न होने लगेगा या फिर ठीक पत्नी भी इसी प्रकार से अपने पति के साथ करती हैं तो भी इसी प्रकार का मतभेद आपके रिलेशन में जरूर आएगा।

जब किसी भी रिलेशन में मतभेद अपनी जगह बना लेता है सब छोटा से छोटा और पुराने से पुराना रिलेशन खत्म होने में समय नहीं लगता है। इसीलिए आपको इस छोटी सी परंतु सबसे महत्वपूर्ण बात को समझना बेहद ही आवश्यक है। 

हस्बैंड और वाइफ को कभी भी एक दूसरे की तुलना किसी और के साथ नहीं करनी चाहिए बस आपको अपने रिलेशन को बरकरार रखने के लिए इसके लिए आवश्यक कदम उठाने चाहिए।

  • छोटी-छोटी बातों पर तलाक तक ना जाए:-

आजकल हमने देखा है कि पति पत्नी का रिश्ता चाहे जितना भी पुराना हो या फिर चाहे जितना ही मजबूत क्यों ना हो छोटे से झगड़े की वजह से बात तलाक तक पहुंच जाती है। आजकल तो बड़े-बड़े सेलिब्रिटी भी शादी के बाद तलाक लेने से पीछे नहीं हटते। हमने अपने पिछले आर्टिकल नागा चैतन्य की लव स्टोरी के अंदर भी यही समझाने का प्रयास किया है। 

रिश्ता कितनी भी समझदारी से क्यों ना जुड़ा हो या फिर आपके बीच में कितनी ही अंडरस्टैंडिंग क्यों ना हो परंतु जरा सी गलती पर तलाक लेना बिल्कुल गलत है। इसीलिए आपको अपने रिश्ते को बचाए रखने के लिए कभी भी तलाक को अपने जीवन में जगह नहीं देना है। 

एक पति और पत्नी को सोचना चाहिए कि उनके रिलेशन में तलाक की नौबत ही ना और अगर आए भी तो कैसे भी करके उसे अपने जीवन से दूर भगा दो।

क्योंकि पति पत्नी का रिश्ता बहुत ही पावन और दिल से दिल का रिश्ता होता है।  पति पत्नी के प्यार के रिश्ते को संभालने के लिए आवश्यक कदम उठाए और कभी भी यहां तक की बात पर विचार ही ना करें।

  • एक दूसरे पर चिल्लाने से और गुस्सा करने से बचें:-

अगर आप अपने पति पत्नी के रिलेशन को बरकरार रखना चाहते हैं और चाहते हैं कि आपके रिलेशन में खुशियां ही खुशियां रहे तो आपको सबसे पहले अपनी सबसे बुरी आदतों को छोड़ना होगा। बुरी आदतों का मतलब एक दूसरे पर चिल्लाना और गुस्सा करने जैसी बुरी आदतों से परहेज करना होगा। 

पति पत्नी के रिलेशन में कभी भी इस प्रकार की बुरी आदतों को जगह ना दें। एक दूसरे पर चिल्लाने और गुस्सा करने से अच्छा है कि समस्या कब बैठकर बिल्कुल प्यार से निवारण किया जाए या फिर इस पर विचार किया जाए। यदि आप ऐसा करेंगे तो आपका रिश्ता बहुत ही लंबे समय तक चलेगा और इतना ही नहीं रिश्तो में हमेशा खुशियां ही खुशियां रहेंगे।

  • दूसरे के स्वास्थ्य के प्रति भी हमेशा चिंतित रहें:-

पति और पत्नी का रिश्ता गाड़ी के दो पहियों की तरह होता है। अब आप सोच रहे होंगे कि हमने गाड़ी के दो पहिए पर ही इस रिलेशन को क्यों समझाने का प्रयास किया है। जिस प्रकार से कोई भी दो चक्का वाहन बिना 1 चक्के की नहीं चल सकती है ठीक उसी प्रकार से पति पत्नी के बीच का रिलेशन अगर सही नहीं होता है तो इसका असर परिवार पर भी देखने को मिलता है। 

अगर आपके बच्चे हैं तो उन पर भी इसका भारी असर देखने को मिलता है। इसीलिए आपको अपने पति पत्नी के रिलेशनशिप को बरकरार रखने के लिए एक दूसरे के स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना चाहिए। अगर आपका स्वास्थ्य सही रहेगा तो आपके रिलेशन भी सही रहेगा। इसीलिए आपको एक दूसरे के स्वास्थ्य पर ध्यान देना है और जरूरत पड़ने पर इसे स्वस्थ रखने के लिए और सही करने के लिए आवश्यक उपाय भी अपनाना है।

  • करवा चौथ के मौके पर पति और पत्नी एक दूसरे को उपहार दें:-

ऐसा नहीं है कि करवा चौथ के मौके पर केवल पति ही अपनी पत्नी को उपहार प्रदान करता है बल्कि पत्नी को भी अपने पति के लिए करवा चौथ की शॉपिंग को करने के दौरान कुछ ना कुछ गिफ्ट खरीदना चाहिए। एक दूसरे को अगर आप समझते हुए इस पावन मौके पर कोई आकर्षक गिफ्ट देंगे तो आपके दोस्तों में हमेशा मिठास बनेगी और खुशी कभी भी कम नहीं होती।

करवा चौथ शुभ मुहूर्त 

FAQ about Karva Chauth Ka Kya Matlab Hota Hai

Q: करवा कितनी तारीख को है?

ANS:- करवा 24 अक्टूबर 2021 दिन रविवार को है।

Q: करवा चौथ में क्या क्या सामान लगता है?

ANS:- करवा चौथ में बहुत सारी पूजन सामग्रियों का इस्तेमाल किया जाता है और उसकी जानकारी हमने अपने इस आर्टिकल में विस्तार से बताई है। इसे आप पूरा अवश्य पढ़ें।

Q: करवा चौथ को किसकी पूजा की जाती है?

ANS:- करवा चौथ को पति की लंबी आयु और निरोगी स्वास्थ्य की कामना करते हुए सभी सुहागिन स्त्रियां भगवान शिव शिवा और भगवान श्री गणेश के साथ-साथ कार्तिकेय जी की पूजा अर्चना करती है।

Q: करवा चौथ में छलनी का महत्व?

ANS:- पौराणिक कथाओं के अनुसार छलनी में चांद को देखने के बाद पति को देखकर करवा चौथ का व्रत तोड़ने पर व्रत पूरा होता है और इसे शुभ माना जाता है।

Q: करवा चौथ पर पत्नी को क्या गिफ्ट दे?

ANS:- करवा चौथ पर आप अपनी पत्नी को साड़ी, ज्वेलरी या फिर उसकी कोई भी पसंदीदा चीज को गिफ्ट कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों को Karva Chauth Ka Kya Matlab Hota Hai? इस विषय पर विस्तार पूर्वक से जानकारी प्रदान की हुई है। पति पत्नी के शादीशुदा जीवन को सुखमय बनाने के लिए और इस रिश्ते को सदा सदा के लिए अमर करने के लिए करवा चौथ का व्रत किया जाता है।

हमने आपके प्यारे से शादीशुदा रिलेशनशिप को बरकरार रखने के लिए ही इस आर्टिकल को प्रस्तुत किया है। अगर आपके मन में कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं।

अगर आपको आज का हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले। आर्टिकल को शुरू से अंत तक पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद और आपका समय शुभ हो।

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap